चावल खाने वाले जरूर जान लें इसके ये भयंकर नुकसान | Chawal khane ke nuksan

cahwal

समझदार लोग पूरी वीडियो देखें।

आपको शायद पता होगा की चावल धान के बीज को कहते हैं। भारत में पके चावल को भात कहते है। चावल खाना लगभग सभी को पसंद है, और सभी लोग इसे बड़े ही चाव से खाते हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि यही चावल आपके शरीर को कुछ ऐसे नुकसान पहुंचाता है जिसके बारे में आपने कभी सोचा न होगा।अख्सर लोग चावल का सेवन लजीज पकवानों के साथ करते हैं। इसके अलावा यदि भोजन के थाली में चावल ना हो तो खाना अधूरा सा लगता है और यदि चावल थाली में हो तो बस देखकर ही लगता है कि अब पेट भर जाएगा। आप लोगों को शायद पता हो कि चावल दो प्रकार के होते हैं एक सफ़ेद और दूसरा पीले रंग का होता है जिसे ब्राउन राईस भी कहते हैं।

Chawal khane ke nuksan

जिसमें से सफ़ेद चावल हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक होता है। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये दोनों चावल ही है तो इनके रंग में ये अंतर कैसे होता है। वैसे शायद कुछ लोगों को इसके बारे में पता होगा। लेकिन आपको बता दें कि सफ़ेद चावल के ऊपर की एक परत हो निकाल दिया जाता है जिसे आम भाषा में पॉलिश चावल कहते हैं, और इसी के विपरीत पीले चावल के ऊपर की परत को नहीं निकाला जा सकता है क्योंकि इसे पहले धान की स्थित में हल्की आंच पर पकाया जाता है जिससे इसकी परत सख्त हो जाती है। अब आप सोंच रहे होंगे की जब चावल इतना नुकसानदायक होता है तो मार्केट में इतना ज्यादा क्यों बिकता है, इसका एक मुख्य कारण है की जब चावल की पॉलिशिंग होती है तो इसका लगभग 95 प्रतिशत पोषक तत्व निकल जाती है Chawal khane ke nuksan जिससे कि इस चावल को लम्बे समय तक स्टोर कर के रखा जा सकता है और यह ख़राब नहीं होता है। वैसे लगभग सभी प्रतिदिन सफ़ेद चावल का ही सेवन करते हैं। अधिकतर लोगों चावल के बारे में बस इतना पता रहता है कि चावल खाने से पेट निकलता है मतलब मोटापा बढ़ता है लेकिन आपको बता दें कि इसके अलावा चावल खाने के बहुत ही भयंकर नुकसान होते हैं जिसे आपको जरूर जानना चाहिए, जिससे की समय रहते आप घातक परेशानियों से अपने शरीर को बचा सकें। वीडियो शुरू करने से पहले आपको पता दें कि, आप पूरी वीडियो जरूर देखें, ताकि कोई जरुरी जानकारी आपसे छूट न जाए जिससे कि आपको बाद में पछताना पड़े। Chawal khane ke nuksan

बहुत से लोगों की हमेशा तबियत ख़राब होती रहती है, ठीक हुए कुछ दिन होता नहीं फिर कुछ न कुछ परेशानी शुरू हो जाती है, जिसके कारण उन्हें बार बार दवाइयां खानी पड़ती हैं। इसका एक कारण शरीर में अम्लता का बढ़ना भी हो सकता है। सफ़ेद चावल, एक अत्यधिक अम्लीय भोजन है, जो आपके शरीर को बहुत अम्लीय बनाता है। आपको जानकार हैरानी होगी कि, हमारे शरीर में अम्लता आज के समय के रोगों के मुख्य कारणों में से एक है। Chawal khane ke nuksan

आपको शायद पता होगा कि इंसान के पेट की सफाई करने में फाइबर्स बहुत ही मददगार होता है। चावल के सेवन से पेट की बहुत सी बीमारियां होती हैं क्योंकि चावल में फाइबर्स नहीं पाया जाता है और यह पेट में ज्यों के त्यों ही रहता है जो पेट में रोगों को जन्म देती है।

बहुत से स्टूडेंट्स क्लासरूम और जॉब करने वाले लोग अपने ऑफिस में सो जाते हैं वैसे कोई नहीं चाहता सोना लेकिन नींद और थकान इतनी जबरदस्त होती है अपने से ही शरीर झपकियां लेने लगता है। इसका मुख्य कारण चावल हो सकता है क्योकि चावल में विटामिन बी वन पाया जाता है जिसके कारण शरीर आलस का शिकार हो जाता है इसके अलावा इसके सेवन से दिमागी थकान भी होती है, जिससे बच्चों का पढ़ने और जॉब्स वाले व्यक्तियों का काम में मन नहीं लगता है जिसके चलते वह सबसे पीछे रह जाते हैं।

आज के समय में किसी भी व्यक्ति को मधुमेह या डाइबिटीज़ हो सकती है, जिसका कारण चावल का सेवन भी हो सकता है। क्योंकि चावल का सेवन करने से शरीर में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाती है और शुगर हाई लेवल तक पहुंच जाता है, जो मधुमेह के मरीजों के लिए बहुत ही घातक हो सकता है। Chawal khane ke nuksan

हमारे शरीर को काम करने के लिए खनिज तत्वों की आवश्यकता होती है। जो चावल में बहुत ही कम मात्रा में पाया जाता है जिसके कारण हमारे शरीर के सभी फंक्शन सही से काम नहीं करते या फिर ख़राब हो सकते हैं। Chawal khane ke nuksan

सौ ग्राम चावल का सेवन करना छियासी ग्राम चीनी खाने के बराबर होता है। अर्थात सौ ग्राम चावल बराबर छियासी ग्राम चीनी

Related posts

Leave a Comment