दुनिया में ऐसी कोई भी बीमारी नहीं जो इससे ठीक ना हो, जहां मिले तुरंत इसे तोड़ कर रख लें

bhatkaitya

भटकटैया एक छोटा कांटेदार पौधा जिसके पत्तों पर भी कांटे होते हैं। इसके फूल नीले रंग के होते हैं और कच्‍चे फल हरित रंग के लेकिन पकने के बाद पीले रंग के हो जाते हैं। यह प्राय पश्चिमोत्तर भारत में शुष्क स्थानों पर पाई जाती है। यह पेट के अलावा कई प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं में उपयोगी होती है। ये कच्ची हालत में हरे रंग के, सफेद धारियों से युक्त और पक्की अवस्था में पीले रंग के, हरी धारियों से युक्त होते हैं। बैंगन के समान इसके बीज अनेक संख्या…