भारतीय संस्कृति में तुलसी को पूजनीय एवं पवित्र माना जाता है, तुलसी औषधीय गुणों से भरपूर है. इसी औषधीय गुणों के कारण ही इसे एक श्रेष्ठ पौधा माना जाता है. तुलसी अत्यधिक बिमारिओं में काम आती है. वैसे तो सभी के आँगन में तुलसी होती है आँगन नहीं तो छत या बालकनी पर होती है. तुलसी की पत्ते, जड़, और तने सभी के अपने अनोखे गुण है, आइये जाने तुलसी के गुणों को और इस पवित्र पौधे का अपने जीवन में प्रयोग करें-

सर्दी या जुकाम होने पर चाय में तुलसी का पत्ता डालकर पीने से आराम मिलता है.

तुलसी के पत्तों के सेवन से सिर का दर्द बंद हो जाता है.

दस्त होने पर 1 गिलास पानी में कुछ तुलसी के पत्ते डालकर काढ़ा बनाकर सेवन करें दस्त में लाभ होगा.

सांस की दुर्गंध को समाप्त करने के लिए तुलसी के पत्तों को चबाना फायदेमंद होता है.

तुलसी के पत्ते और फिटकिरी के मिश्रण को घाव पर लगाने से घाव जल्दी भरते है .

तुलसी के अर्क को दाद या खुजली वाली जड़ों पर लगाने से लाभ होता है.

तुलसी के पत्तों को चबाने से मुंह का संक्रमण ठीक हो जाता है.

अक्सर तनाव में रहने वाले व्यक्ति को तुलसी का सेवन करने से तनाव दूर हो जाता है

चक्कर आने पर तुलसी के पत्ते और शहद के मिश्रण के सेवन से चक्कर आना बंद हो जाता है.

error: Content is protected !!