अन्नास के ऐसे फायदे जानकर उड़ जाएंगे आपके भी होश, क्लिक कर जाने जरूर

अन्नास के ऐसे फायदे जानकर उड़ जाएंगे आपके भी होश, क्लिक कर जाने जरूर

गर्मी के दिनों में जूस पीना सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। लेकिन अनानास का जूस गर्मी से राहत देने के साथ ही कई गंभीर बीमारियों से भी हमें बचाता है। अनानास में काफी नुट्रीशियन होते हैं। एक अच्छी सेहत की दृष्टि से अनन्नास महत्त्वपूर्ण फलों में से एक है। स्वाद...
अगर आप सुबह खाली पेट केला खाते हैं तो ये खबर जरूर पढ़ें, कहीं देर न हो जाए

अगर आप सुबह खाली पेट केला खाते हैं तो ये खबर जरूर पढ़ें, कहीं देर न हो जाए

हमारे देश में केला कही पर भी आसानी से मिल जाता है। यह मौसमी फल नहीं है ये 12 महीने आसानी से मिलता है. लेकिन केला खाने का सबसे ज्यादा फायदा बरसात में होता है केला कच्चा व पका हुआ दोनों ही तरह से खाने में फायदेमंद होता है। बहुत से लोग सुबह उठते ही चाय पीकर दिन की शुरुआत...
सिर्फ 7 दिन पके हुए अनानास खाने से जड़ से समाप्त हो जाते हैं ये 3 रोग

सिर्फ 7 दिन पके हुए अनानास खाने से जड़ से समाप्त हो जाते हैं ये 3 रोग

अनानास एक ऐसा फल हैं जो प्रोटीन, फॉस्फोरस, कैल्शियम से भरपूर हैं और उसमे विटामिन A और सी पाया जाता हैं। इसको जूस और सलाद के रूप में खाया जा सकता हैं. इसका स्वाद खट्टा-मीठा होता हैं। गर्मी के मौसम में जूस पीने के अपने फायदे हैं। अगर आप भी जूस पीना पसंद करते हैं, तो इस...
केला खाते समय भूलकर भी ना करें यह गलती, जान लें वरना पछताते रहोगे

केला खाते समय भूलकर भी ना करें यह गलती, जान लें वरना पछताते रहोगे

दिन की शुरुआत में नाश्ता बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, अगर अच्छा ब्रेकफास्ट कर लिया जाए तो पूरा दिन बढ़िया हो सकता है। कई बार सुबह हम जल्दबाजी में नाश्ते में केले को शामिल कर लेते हैं। दिन की शुरुआत अगर अच्छे नाश्ते से हो तो पूरा दिन अच्छा और एनर्जी से भरपूर...
अंजीर का पेड़ है किसी संजीवनी बूटी से कम नहीं, आप भी जानें इसके गुण

अंजीर का पेड़ है किसी संजीवनी बूटी से कम नहीं, आप भी जानें इसके गुण

अंजीर एक स्वादिष्ट, स्वास्थ्यवर्धक और बहुपयोगी फल है। इसके पके फल को लोग खाते हैं। सुखाया फल मेवे के रुप में बिकता है। सूखे फल को टुकड़े-टुकड़े करके या पीसकर दूध और चीनी के साथ खाया जाता है। अंजीर के पेड़ की छाल चिकनी और सफ़ेद होती है और यह पेड़ 7-10 मीटर की ऊंचाई तक...
यह चीज कहीं दिखे तो छोड़ें ना, गुप्त रोगों का है काल

यह चीज कहीं दिखे तो छोड़ें ना, गुप्त रोगों का है काल

शहतूत को मलबेरी के नाम से भी जाना जाता है। मध्य भारत में यह प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। वनों के अलावा इसे सड़कों के किनारे और बाग-बगीचों में भी देखा जा सकता है। इसका वानस्पतिक नाम मोरस अल्बा है। शहतूत को अंग्रेजी में मूलबेरी और आम बोलचाल की भाषा में शहतूत कहा जाता...
error: Content is protected !!