आज कल बाजार में आपको परवल की सब्‍जी भी खूब देखने को मिलती है। इसे सब्जी के अलावा कई तरह के आयुर्वेदिक नुस्खो में इस्तेमाल किया जा सकता है। यह बुखार, खांसी, सर्दी, त्वचा संक्रमण और घावों के उपचार में लाभप्रद होता है। इसमें बहुत तरह के विटामिन गुण होते हैं।

परवल में विटामिन-A, विटामिन-B1, विटामिन B2 और विटामिन-C और कैल्शियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है, यह हमारे शरीर में कैलोरी की मात्रा कम कर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कंट्रोल करता है।

परवल में भरपूर मात्रा में फाइबर होते हैं जिससे पाचन तंत्र को मजबूत रहता है। परवल के बीजों में भी कब्ज को दूर करने के बेहतरीन गुण होते हैं इसके साथ ही ये बीज रक्त में शर्करा और वसा को नियंत्रित करने का कार्य भी करते हैं।

यदि आपको बहुत ज्यादा फोड़े फुंसियां हो जाएं तो कम मसालों से तैयार की गई परवल की सब्जी को लगभग 15 दिनों तक नियमित सेवन करें। इससे आपको लाभ होगा।

परवल के बीज बहुत ही लाभदायक होते हैं। इससे कोलेस्‍ट्रॉल और ब्‍लड शुगर लेवल को प्राकृतिक रूप से नियंत्रित रहता है।

परवल खून साफ करने के लिए काफी मददगार होता है। खून साफ कर हमारे शरीर को स्वस्थ बनाने में सहायक होता है। कफ की समस्या होने पर भी परवल लाभकारी होता है।

परवल एंटीऑक्सीडेंट्स से भरा होता है, जिससे कि त्वचा की झाइयों, झुर्रियों और बारीक रेखाओं को कम कर कसाव लाने में सहायक हैं।

error: Content is protected !!