आहार-व-पोषण

रात को सोते समय गुड़ खाया फिर जो हुआ वह चौकाने वाला था

Jaggery-गुड़

आयुर्वेद के अनुसार गुड़ में मौजूद तत्व शरीर के एसिड को समाप्त करते हैं। इसके अलावा चीनी के सेवन से एसिड की मात्रा शरीर में बढ़ जाती है जिसके कारण हमारे शरीर में विभिन्न रोग पैदा होते हैं। गुड़ को प्राकृतिक मिठाई के रूप में पहचाना जाता है इसके अलावा
यह यह हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए एक खजाना है। गुड में प्रचुर मात्रा में सुक्रोज, ग्लूकोज, खनिज तरल और पानी कुछ मात्रा में पाई जाती है जो हमारे शरीर के लिए लाभदायक होता है। तो चलिए अब जानते हैं इसके हैरान करने वाले फायदे।

  • पेट

गुड़ पेट की बहुत सी समस्याओं से निपटने के एक बेहद कारगर और आसान उपाय है। गुड़ हमारे पेट में कब्ज और गैस को नहीं बनने देती है इसके अलावा पेट की पाचन क्रिया से जुड़ी अन्य समस्याओं में भी लाभदायक होता है। खाना खाने के बाद गुड़ का सेवन करने से
पाचन क्रिया अच्छी रहती है।

  • त्वचा

गुड़ और गरम दूध का स्वाद कुछ हद तक चॉकलेट की तरह लगता है। गुड़ और गरम दूध का एक साथ सेवन करने से हमारी त्वचा बेहद मुलायम हो जाती है। इसके अलावा त्वचा संबंधी समस्याएं विकार भी दूर हो जाती हैं साथ ही आपके बाल बहुत ही चमकीले और
मजबूत हो जाएंगे।

  • सर्दी

ठंड के मौसम मे सर्दी ख़ासी कफ एक आम समस्या होती हैं लेकिन यह बहुत ही ज्यादा परेशान कर देती हैं। इसके लिए गुड बहुत ही फायदेमंद है, क्यों की गुड की तासीर गरम होती है, जो ठंड के मौसम मे आपके शरीर को अंदर से गरम रखता है। इसके सेवन आप
चाय बनाकर या गुड को दूध मे मिलाकर कर सकते हैं।

  • मानसिक रोग

गुड़ में प्रचुर मात्रा में विटामिन बी होने के कारण इसके सेवन से मानसिक रोगों को दूर किया जा सकता है। इसके अलावा प्राचीन ग्रंथों में भी कहा गया है कि गुड़, दही और मक्खन खाने वाले जल्दी बूढ़े नहीं होते हैं।

इसे भी जाने-आलू का छिलका बेकार नहीं है बड़े काम की चीज

  • रक्त का शुद्धिकरण

गुड़ में हमारे शरीर में मौजूद अशुद्धियों को साफ करने की क्षमता होती है। इसके लिए आप प्रतिदिन गर्म दूध और गुड का सेवन करें। इससे आपके शरीर से ऐसी रक्त अशुद्धियां निकल जाएंगी और आपको किसी प्रकार की कोई बीमारी भी नहीं होगी क्यों की अधिकतर
बीमारियां खून की अशुद्धियों के कारण ही होती हैं। तो आज से गुड़ खाना शरू कर दें।

वीडियो…

 

ये हैं गुड़ के 10 अचूक फायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!