खाली पेट भूल से भी न करें इन 4 चीजों का सेवन, आपके लिए हो सकता है जानलेवा

khali pet

अच्‍छी सेहत पाने के लिए हम क्‍या-क्‍या नहीं करते, लेकिन कभी-कभी कुछ बातों को न जानने के कारण हमारी सेहत पर उलटा प्रभाव पड़ने लगता हैं। इसके लिए हमें यह भी मालूम होना चाहिए कि कौन सी चीज किस समय पर खाएं और किस चीज का फायदा हमें कब होता है। क्योंकि कई खाने वाली चीजों में एसिड की मात्रा इतनी अधिक होती है कि यदि उन्हें खाली पेट खाया गया तो शरीर को नुकसान हो सकता है। और कई चीजों को खाली पेट खाने से फायदा होता है। इस लेख में आपको सुबह खाली पेट क्या खाना और पीना चाहिए के बारे में विस्तार से बताया जा रहा है। साथ ही आपको खाली पेट क्या खाना चाहिए, सुबह खाली पेट क्या नहीं खाना चाहिए के साथ ही सुबह क्या पीना चाहिए व क्या नहीं पीना चाहिए आदि के बारे में भी विस्तार से बताया गया है।

पोषक तत्वों से भरपूर केले का सेवन खाली पेट करने से शरीर में मैग्नी्शियम की मात्रा काफी बढ़ जाती है, खून में कैल्शियम और मैग्नी्शियम की मात्रा असंतुलन हो जाती है। इससे पेट में एसिडिटी और सीने में जलन हो जाती है।

इसमें कोई शक नहीं है कि टमाटर विटामिन और एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है हालांकि जब आप इसे खाली पेट खाते हैं तो एसिडिक नेचर की वजह से पेट को नुकसान पहुंचाता है। ये पेट पर जरूरत से ज्यादा दवाब डालते हैं और इससे पेट में दर्द हो सकता है। अल्सर से पीड़ित लोगों के लिए ये खतरनाक स्थिति हो सकती है।

खाली पेट पपीता खाने से आपके शरीर के विषाक्त पदार्थ आसानी से बाहर आते हैं और आपके मल त्यागने की प्रक्रिया ठीक होती है। पपीते का एक बड़ा फायदा यह है कि ये फल साल में हर मौसम में आसानी से मिल जाता है। इससे शरीर के खराब कोलेस्ट्रोल का स्तर कम होता है और हृदय रोगों से बचाव होता है। सुबह के समय पपीता खाने के बाद आपको करीब 45 मिनट के बाद ही अपना नाश्ता खाना चाहिए।

टमाटर का सेवन खाली पेट कभी नहीं करना चाहिए क्योंकि इसमें एसिड की मात्रा ज्यादा होती है जिससे शरीर प्रभावित होता है और पेट में स्टोन यानी पथरी का कारण बन जाता है। इसके अलावा शकरकंद में मौजूद पैक्टीन और टैनीन पेट में गैस्ट्रिक एसिड की परेशानी पैदा कर सकता है। जिसके कारण पेट में दर्द और सीने में जलन हो सकती है। इसलिए खाली पेट शकरकंद खाने से बचना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!