कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के अनुसार प्रतिदिन दो सेब खाने से या फिर सेब का 12 औंस रस रोज़ाना पीने से दिल की बीमारी संबंधित जोखिम बहुत हद तक कम हो जाता है। सिर्फ एक गिलास सेब का जूस शरीर में एंटीऑक्‍सीडेंट्स और विटामिन्स की कमी को पूरा कर देता है। सेव शरीर की अंदरूनी खूबसूरती और बाहरी खूबसूरती दोनों में मददगार है। सेब रेशे वाला फल है इसीलिए इसमें फाइबर प्रचूर मात्रा में पाया जाता है। कई लोगों को सेब के बजाय सेब का जूस ज्यादा पसंद होता है। अब आइये सेब के इन गुणों को गहराई से जानें।

 

सेब में फ्लेवोनॉयड पाया जाता है जो अस्‍थमा में बहुत ही लाभदायक होता है। यह फेफड़ों को मजबूत बनाता है और उसे सही रूप से काम करने में सहायक होता है।

सेब में बहुत से पोषण तत्व पाए जाते हैं जो हमारे लीवर हमारे लीवर को विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालता है। इसके अलावा सेब के छिलकों में पैक्टिन होता है जिससे हमारी पाचन क्रिया बहुत ही मजबूत कर देता है।

सेब के सेवन से हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत हो जाती है साथ ही साथ ही कई बीमारियों के कीटाणुओं और बैक्टीरिया से लड़ने की क्षमता कई गुना बढ़ जाती है।

सेब के जूस में कैल्शियम, विटामिन सी, बोरोन और आयरन प्रचुर मात्रा में होते हैं इसके सेवन से हमारी हड्डियों को हड्डियो को मजबूती होती मिलती है और उन्हे स्ट्रॉंग बनाते हैं।

सेब को हृदय का एक बहुत ही फायदेमंद होता है। जो हृदय प्रणाली की रक्षा करने में अत्यंत सक्षम हैं। यह शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को घटाता हैं और शुगर की मात्रा को भी कंट्रोल में रखता है। यह रक्त की बहाव कोनियमित बनाए रखता है।

सेब में क्वरसिटिन मौजूद होता है, जो शरीर की कोशिकओं को नुकसान पहुँचने से बचाता है। सेब का सेवन करने से कैंसर का खतरा कम हो जाता है।

सेब को चबा चबा कर खाने से आपके दाँतों को सफेदी मिलती है। ऐसा करने से मुंह में बैक्टीरिया समाप्त हो जाते हैं और दांतों से जुड़ी कोई बीमारी भी नहीं होती है।

error: Content is protected !!