अंजीर एक स्वादिष्ट, स्वास्थ्यवर्धक और बहुपयोगी फल है। इसके पके फल को लोग खाते हैं। सुखाया फल मेवे के रुप में बिकता है। सूखे फल को टुकड़ेटुकड़े करके या पीसकर दूध और चीनी के साथ खाया जाता है। अंजीर के पेड़ की छाल चिकनी और सफ़ेद होती है और यह पेड़ 7-10 मीटर की ऊंचाई तक बढ़ सकता है। यह फल एक अत्यंत स्वादिष्ट एवं स्वास्थ्यवर्धक फल है। अंजीर के स्वास्थ्य लाभ उसमें निहित खनिज, विटामिन और फाइबर की देन हैं। अफगानिस्तान के काबुल में अंजीर की अधिक पैदावार होती है। हमारे देश में बंगलूर, सूरत, कश्मीर, उत्तरप्रदेश, नासिक तथा मैसूर में यह ज्यादा पैदा होता है। अंजीर का पेड़ लगभग 4.5 से 5.5 मीटर ऊंचा होता है। सर्दियों के दिनों में अंजीर सेहत के लिए बहुत ही ज्यादा लाभकारी होता हैं। अंजीर बहुत ही स्वादिष्ट और रसीला फल हैं। यह फल नाशपाती के आकार का होता हैं और यह रसीला एवं गुदेदार होता हैं।

anjeer

अंजीर को शक्तिशाली फल के रूप में जानते हैं, शरीर के शारीरिक सम्बन्ध शक्ति को बढाने के लिए अंजीर को ढूढ़ के साथ लेने से अधिक लाभ होता हैं। शरीर पुष्ट होगा और शक्ति बढ़ेगी।

अंजीर में कैल्शियम भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं। सिर्फ दिन भर में 4-5 अंजीर को खाने से आपकी हड्डियाँ मजबूत बनने लगती हैं। इसलिए अगर आप अपनी हड्डियों को मजबूत बनाना चाहते हैं तो इस चमत्कारी फल को जरूर खाए।

anjeer

प्रतिदिन थोड़ेथोड़े अंजीर खाने से पुरानी कब्जियत में मल साफ और नियमित आता है। 2 से 4 सूखे अंजीर सुबहशाम दूध में गर्म करके खाने से कफ की मात्रा घटती है, शरीर में नई शक्ति आती है और दमा रोग मिटता है।

अंजीर कैल्शियम, पोटेशियम और मैग्नीशियम से प्रचुर होता है जो हड्डियों को मज़बूत बनाने के लिए प्रमुख तत्व हैं। इसका सेवन करने से ऑस्टियोपोरोसिस जैसे हड्डियों के विकारों से भी संरक्षण मिलता है। चूँकि यह फॉस्फोरस का भी एक समृद्ध स्रोत है, इसलिए यह हड्डियों के विकास को बढ़ावा देता है और उनके पतन को भी रोकता है।

error: Content is protected !!