घरेलू उपचार

उबली हुई चाय की पत्ती बचा सकती है लाखो रुपये, फैकने से पहले इसे जरुर पढ़ लें

chaypatti

chaypatti

प्रकति से हमें कई चीजे वरदान स्वरूप मिली है। जेसे वनस्पति, पेड-पोधे, वायु, जल आदि. लेकिन देनिक उपयोग में आने वाली कई चीजों का इस्तेमाल करना हम भूल जाते है, या फिर कहे की हमें उनकी जानकारी नहीं होती है. आज हम आपको हर व्यक्ति के देनिक उपयोग में आने वाली चाय पत्ती के फायदे बताएँगे जिनसे आप अनजान थे। चाय की चुस्क‍ियां लेते समय क्या आपने कभी ये सोचा है कि इसका इस्तेमाल और किस तरह से कर सकते हैं। शायद आपको पता न हो लेकिन चाय की पत्त‍ियां एक बेहतरीन ब्यूटी प्रोडक्ट हैं, जिनका इस्तेमाल न केवल त्वचा की खूबसूरती बढ़ाने के लिए किया जाता है बल्क‍ि ये बालों की सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद है। आप चायपत्ती का प्रयोग छोलो को टेस्टी बनाने में भी कर सकती है। इसके लिए चायपत्ती को पानी में डाल लें फिर उस पानी को उबाल कर इसकी थोड़ी-सी मात्रा काबुली चने में डाल दें। इससे छोले का कलर बहुत ही आकर्षित दिखेगा। महक और स्वाद भी काफी अच्छा आएगा।

अगर आपका काबुली चने बनाने का मूड हो रहा हो तो चने उबालते समय चाय की पत्ती की पोटली बनाकर उसमे डाल दें। इससे चने का रंग बढिया आएगा और स्वाद भी बेहतर हो जायेगा।

चायपत्ती में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं। चोट या फिर किसी भी जख्म पर चायपत्ती का लेप करने से खून का बहना बंद हो जाता है। उबली हुई चायपत्ती को अच्छे से धोकर इसे बारीक़ पीसकर चोट पर लगाने से घाव जल्दी भर जाता है।

अगर आपके पैरों से बदबू आती है तो भी चाय पत्ती का इस्तेमाल करना फायदेमंद रहेगा। चाय की पत्त‍ियों को पानी में डालकर उबाल लें। जब ये पानी ठंडा हो जाए तो इसे किसी टब में डाल दें। पैरों को कुछ देर तक इसमें डुबोकर रखें। ऐसा करने से पैरों की बदबू दूर हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!