danto ke kide

जानें दांतों में कीड़े लगने का घरेलू उपाय, दांतों में कीड़े लगना इसका मतलब है कि आपके खान पान में पाबंदी लगना। आज बहुत से लोग दांतों में कीड़े लगने के कारण परेशान होते हैं जो कि बहुत ही दर्दनाक भी होता है। दांतों में कीड़े लगने को लोग सामान्‍य भाषा में कैविटी के नाम से जानते हैं। लोगों के लिए दांतों में कीड़े लगना एक शर्मनाक शब्‍द हो सकता है क्‍योंकि यह सीधे ही लोगों के दांतों की सफाई से संबंधित है। लेकिन इस समस्‍या से छुटकारा पाने के कुछ प्राकृतिक और प्रभावी इलाज भी मौजूद हैं। इस आर्टिकल में आप दांत के कीड़े दूर करने के उपाय के बारे में जानेंगे। आइए जाने कैविटी दूर करने के घरेलू उपाय क्‍या हैं।

आयुर्वेद में लौंग के बहुत सारे फायदे बताए गए हैं। दांतों से जुड़े हर मर्ज की दवा है लौंग। दांतों में कीड़ों की समस्या है तो 2-3 लौंग को बारीक पीस लें और फिर इसके पाउडर को कीड़े लगे दांतों पर छिड़क लें या दांतों में इसके चूर्ण को दबा लें। अब मुंह को बंद कर लें और लार बनने दें। इस लार को मुंह में 5 मिनट तक रोके रखें फिर उगल कर नार्मल पानी या गुनगुने पानी से कुल्ला कर लें। इसके अलावा लौंग के तेल में रूई भिगाकर कीड़े वाले दांत पर लगाने से भी कीड़े खत्म हो जाते हैं।

लहसुन में बहुत सारे गुण होते हैं। ये एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-फंगल और एंटी-बायोटिक गुणों से भरपूर होता है। इसके अलावा लहसुन दर्द से भी राहत दिलाता है। दांतों में कीड़ा लग जाने पर लहसुन की 1-2 कली को उसी दांत से चबाएं जिसमें कीड़े लगे हों। इसके रस से कीड़े मर जाएंगे और दर्द ठीक हो जाएगा। आप चाहें तो लहसुन को पीसकर उसमें सेंधा नमक मिलाकर भी दांत में लगा सकते हैं।

नीम में ढेर सारे औषधीय गुण होते हैं। इसके एंटीबैक्टीरियल गुणों के कारण नीम को बैक्टीरिया, फंगस और कीटाणुओं का दुश्मन समझा जाता है। दांतों में कीड़े लग गए हैं तो नीम की पतली टहनी या छाल से दातुन करने से ये कीड़े खत्म हो जाते हैं। इससे दांत मजबूत बनते हैं और दांतों का दर्द भी आसानी से ठीक हो जाता है। इसके अलावा नीम से दातुन करने से सांसों की दुर्गंध से भी राहत मिलती है।

error: Content is protected !!