घरेलू उपचार

कान से कम सुनाई दे तो इन 7 घरेलू उपायों को जाने

baharpan

यदि किसी के सुनने को शक्ति कम हो जाए तो उसे बहरापन कहते है बहरेपन की वजह से सुनने की शक्ति तो कम होती है साथ में उसकी मानसिक और सामाजिक परेशानियां भी बढ़ जाती है कान हमें केवल सुनने में सहायता नहीं करता बल्कि हरे शरीर का संतुलन भी बनाए रखे में मदद करता है कान का बहरापन कान में पानी जाने, फुंसी होने, कान कुरेदने, चोट लगने आदि से हो सकता है इसके अलावा कान या सिर पर ठंड लगने से भी कान के रोग हो सकता है

कुछ तुलसी के पत्ते में सरसों का तेल मिलाकर गर्म करें और ठंडा दो जाने पर कान में डाले

गाय के दूध में एक चुटकी हीरा हींग डाल कर अच्छे से मिला ले और कान में 2 बार डालें

दालचीनी का तेल कुछ दिन तक कान में डालने से आराम मिलेगा

सूती कपडे को गरम पानी में भिगो कर कान सेकें दर्द में आराम मिलेगा

रोज सवेरे(मौसम के अनुसार) पानी में नींबू निचोड़ कर पिने से कान से मवाद का आना बंद हो जाएगा और सेनने में आसानी होगी

कान में प्याज का रस डालने से कान से मवाद आना बंद हो  जाएगा और कान का बहरापन समाप्त हो जाएगा इसे 2-3 बून्द दिन में 3 बार डालें

एक बड़े चम्मच तिल के तेल में पांच ग्राम मेथी के दाने डालकर गरम कर लें और इस 2 बून्द और 2 बून्द  गाय का दूध काम में डालें

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!