कनखजूरे या कर्णकीट को सड़ेगले पौधे और गीली पत्तियाँ खाना पसंद है। वे आपकी फुलवारी और बगीचे में घुस जाते हैं और वे आपके घर में भी घुस जाते हैं। गर्मियों का मौसम शुरू हो चुका है और जैसा की हम सभी जानते हैं इस मौसम में कीडे़ मकौड़े बाहर आते हैं। इसमें सबसे खतरनाक कनखूजरे को माना जाता है। कनखूजरे के बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी नहीं होती। कनखजूरे या कर्णकीट भी इन्ही में एक हैं, जो की काटने के साथ कभीकभी शरीर में चिपक जाते हैं या कान में घुस जाते हैं. तो चलिए जानते हैं।   आज हम आपको कनखजूरे के काटने के बाद इसके जहर से बचने के लिए किये जाने वाले तरीकों के बारे में बताने जा रहे हैं. तो आईये जानते हैं की क्या है वो तरीका।

kankhajura

कनखजूरा आपके कान में घुस जाता है तो उसे बाहर निकलने का सबसे अच्छा तरीका है की आप पानी में थोड़ा सा सेंधा नामक डालकर उसे कान में कान में डालें ऐसा करने से कनखजूरा तुरंत ही कान से बाहर निकल आता है और मर जाता है।

kankhajura

कनखजूरा शरीर से चिपक जाए तो उसके मुंह पर चीनी डालने से वह शरीर को छोड़ देता है। इसी तरह अगर किसी को कनखजूरा काट ले तो हल्दी और सेंधा नमक का मिश्रण लेकर इसे गाय के घी में वहां पर लगाये।

error: Content is protected !!