आज की इस भाग-दौड़ भरी ज़िन्दगी में हमने अपनी रफ़्तार भले ही बढ़ा ली हो लेकिन साथ में हमने अपनी सेहत को बिगाड़ने की गति भी तेज़ कर दी है। शरीर के कुछ अंग बहुत ही अहम होते हैं क्योंकि उनसे ही पूरे शरीर का सिस्टम सुचारू रूप से चलता है जिनमे से एक है गुर्दा। किडनी शरीर का मुख्य अंग है जो शरीर से सारे हानिकारक और विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने का काम करती है।

किडनी रक्त को साफ कर सारे विषाक्त पदार्थों को मूत्र के रूप में शरीर से बाहर कर देती है। हर मनुष्य के शरीर में दो किडनी होती है। हम आपको किडनी फेल के कुछ लक्षण बताएंगे, जिससे आप इस बीमारी को सही समय पर पहचान कर इसका इलाज करवा सकते है।

  1. किडनी खराब होने पर पूरे शरीर में विषाक्त पदार्थ जमा होने लगते है, जिससे आपके हाथों पैरों में पूरी तरह सूजन आने लगती है। इसके अलावा पेशाब का रंग गाढ़ा होना या रंग में बदलाव भी इस बीमारी के लक्षण है।
  2. दिमाग ठीक से काम नहीं करना या कुछ समझने में मुश्किल का सामना करना भी किडनी की कमज़ोरी का संकेत है।
  3. अगर भूख लगना अचानक से कम हो गया है तो इस लक्षण पर तुरंत गौर किया जाना बेहद जरुरी है। ऐसा शरीर में विषाक्त पदार्थों की मात्रा बढ़ जाने से होता है और इसी वजह से उल्टी और मतली आने जैसे लक्षण भी देखे जा सकते हैं।
  4. किडनी के काम न करने के कारण शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी हो जाती है, जिससे शरीर में ऑक्सीजन की कमी होने के कारण सांस लेने में तकलाफ होने लगती है।
  5. मुँह से बदबू आने के कई कारण हो सकते हैं जिनमें से एक कारण किडनी का ख़राब होना भी हो सकता है क्योंकि किडनी खराब होने पर खून में यूरिया का लेवल बढ़ जाता है जिससे मुँह से दुर्गन्ध आने लगती है और मुँह का स्वाद भी बिगड़ जाता है।
error: Content is protected !!