आज के समय में गुर्दे की पथरी होना एक सामान्य सा रोग है। गुर्दें में एक बार में एक या अधिक पथरी हो सकती है। अधिकतर छोटी पथरी पेशाब के रास्ते बाहर निकल जाती है लेकिन अगर पथरी का आकार बड़ी 3-4 mm हो तो वह मूत्र मार्ग से बाहर नहीं निकल पाती, जिसके कारण अत्यधिक पीड़ा का सामना करना पड़ता है। पथरी जितनी बड़ी होता है उतना ही ज्यादा दर्द होता है। ज्यादातर यह 30-60 वर्ष के लोगो में होता है, लेकिन कभी कभी कम उम्र के लोगो को भी हो जाती है। बच्चों, वृद्धों में मूत्राशय और वयस्कों में गुर्दे की पथरी होती है। आपको जानकर हैरानी होगी कि महिलाओं में पुरुषों के मुकाबले पथरी कम होती है। तो चलिए अब जानते हैं गुर्दे की पथरी को आसानी से बाहर निकालने के कुछ कामयाब तरीके, सही जानकारी के लिए पूरी वीडियो जरूर देखें।

प्‍याज को पीसकर और उसका रस निकाल सुबह खाली पेट नियमित सेवन करने से पथरी छोटे-छोटे टुकडे होकर पेशाब के रास्ते बाहर निकल जाती है।मूली के पत्तों का रस 100 ग्राम की मात्रा में ले। रोजाना दिन में 2 से 3 बार इस रस को पीने से पथरी में फायदा मिलेगा।करेले के कड़वे होने के कारण इसे कोई पसंद नहीं करता है, लेकिन कड़वा करेला पथरी को समाप्त करने में मदद करती है, करेले का जूस पीने से पथरी में राहत मिलती है, इसके अलावा आप इसकी सब्जी भी बनाकर खा सकते है।किडनी को स्वस्थ और सेहतमंद रखना हो तो तुलसी के पत्तों को पानी मे उबालकर पिये। इसके साथ तुलसी की चाय पीना भी काफी फायदेमंद है। इसके अलावा तुलसी के कुछ पत्तों का रस में शहद मिलाकर रोजाना सेवन करने से पथरी ठीक हो जाती है।
पुदीना। पुदीने की पत्तियों को पानी में उबाल कर पिने से पथरी में आराम मिलता है।
पत्थरचट्टा के पत्तो को पानी में उबाल ले और काढ़ा बना कर पिये, इस उपाय को लगातार 2 हफ्ते करने से पथरी से निजात मिलेगी।

error: Content is protected !!