क्या-कैसे

बिना पटाखे के दिवाली मनाने के 5 बेहतर तरीके, जाने जरूर

Dipawali

दीपावली भारत के सबसे बड़े और प्रतिभाशाली त्योहारों में से एक है। यह त्योहार आध्यात्मिक रूप से अंधकार पर प्रकाश की विजय को दर्शाता है। आप सभी को पता है कि दीपावली का त्यौहार प्रभु श्री राम चन्द्र पत्नी सीता और उनके भाई लक्ष्मण के चौदह वर्ष के वनवास से लौट कर आने की खुशी में अयोध्या वासियों ने दीप जला कर मनाया था, तभी से दीपावली का त्यौहार दीप जलाकर हमारे देश में मनाया जाता है। इसे सिख, बौद्ध तथा जैन धर्म के लोग भी मनाते हैं। विशेषज्ञों के अनुसार के अनुसार पटाखों के प्रयोग के दौरान इतना वायु प्रदूषण नहीं होता जितना पटाखों के प्रयोग के बाद। जो हर साल दीवाली के पूर्व प्रदूषण स्तर करीब चार गुना बदतर और सामान्य दिनों के औसत स्तर से दो गुना बुरा पाया जाता है। इसलिए इसे रोकने के लिए निचे दिए गए तर्कों से अपनी दिवाली को बेहतरीन और यादगार बने।


नन्हे पौधे

हमारे प्यारे देश वासियों आप सभी को पता है हमारे देश के सभी पेड़ बहुत ही तेजी से कट रहे हैं। जिससे हमारे पर्यावरण को बहुत ही नुकसान हो रहा है इसकी पूर्ति के लिए आप अपनी दिवाली में कुछ नन्हे पौधों को जरुर लगाएं। ताकि जब वह बढे तो आप गर्व से कह सकें कि यह पेड़ मैंने इस साल 2017 की दिवाली के दिन लगाया था सबसे जरूर बात बहुत से लोगों को सोच यह होती है, पेड़ लगेंगे तो यह फल कब देगा लेकिन आप ने कभी यह सोचा है कि जिस पेड़ का फल या किसी भी रूप में आप प्रयोग कर वह कब किसने लगाया होगा। इसलिए अपनी इस दिवाली को पेड़ जरुर लगें। ताकि हमारे देश का भविष्य भी हमारी तरह पेड़ों का आनद ले सके।


मिठाई पार्टी

इस दिवाली आप सभी मिठाइयों की पार्टी कर सकते हैं। जहाँ पर आप अपने रिश्तेदारों दोस्तों और पड़ोसियों को बुला सकते हैं। इस मिठाई की पार्टी में आप हर तरह की मिठाइयां रखें। इसके अलावा आप शुगर फ्री मिठाई का इंतजाम भी कर के रखें। आप सभी को पता है कि यदि किसी को मधुमेह है तो वह शुगर फ्री मिठाइयों का सेवन नहीं कर सकता है, इसलिए शुगर फ्री मिठाई जरूर रखें।


लक्ष्मी प्रवेश

अपनी इस दिवाली को यादगार बनाने के लिए आप सभी साफ़ सफाई करें अपने प्यारे घर को चाँद की तरह चमका दें। इसके अलावा अपने बाग बगीचों को भी साफ़ करें। साफ़ सफाई रखने से आप के घर में लक्ष्मी आएगी और आपकी बिगड़ी हुई आर्थिक स्थिति सुधर जाएगी।


दीपों के साथ सेल्फी

दिवाली है दीपों का त्यौहार इसे दीवाली आप खूब ढेर सारे दीपक जलाएं। ताकि काली अमावस्या की यह रात दिन की तरह चमक उठे और इसके साथ इस दीपक के उजाले को अपने कैमरे में जरूर कैद कर लें। सालों साल आप इसे देखकर इस दिवाली को याद करेंगे।


संगीत से बनाए यादगार दिवाली

दिवाली के इस त्यौहार को आप संगीत के साथ मनाएं आप अपने जानने वालों को निमंत्रित करें और उनकी पसंद का संगीत बजाकर नाच गानों के साथ आनंद लें।


यदि आपको इस पोस्ट में कुछ भी अच्छा लगा हो तो इसे अपने प्रियजनों से Share जरूर करें ताकि सभी को यह खबर मिल सके, साथ ही comment में अपना सुझाव भी दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!