एड्स होने पर की में शरीर देने लगता हैं ये 5 संकेत, क्लिक करके जरूर जानें कहीं देर जाए

aids

एड्स का नाम सुनते ही लोग घबरा जाते हैं। इसके शुरुआती लक्षण बहुत सामान्य होते हैं, जो धीरे-धीरे बढ़ते जाते हैं। 2017 की रिपोर्ट के अनुसार भारत में लगभग 21 लाख लोग HIV का शिकार हैं, जिनमें से 69000 लोगों की इसी साल एड्स से मौत हो गई थी। AIDS (एड्स) एक एडवांस स्टेज है, जिसमें व्यक्ति का इम्यून सिस्टम (प्रतिरक्षा तंत्र) पूरी तरह खराब हो जाता है। इसके कारण रोगी के शरीर में ढेर सारी बीमारियां और इंफेक्शन होने शुरू हो जाते हैं, जो ठीक नहीं होते हैं। एचआईवी एड्स के बारे में आप जरूर जानते होंगे । और यह भी जानते होंगे, कि असुरक्षित शारीरिक संबंध इस बीमारी को जन्म दे सकते हैं। इतना ही नहीं, पीड़ित व्यक्ति के शारीरिक द्रव के संपर्क में आने से भी आप इस गंभीर बीमारी की चपेट में आ सकते हैं। महिलाओं में HIV के लक्षण पुरुषों की तुलना में काफी अलग होते हैं। एचआईवी संक्रमण के बहुत से ऐसे शुरूआती लक्षण हैं जिसे अक्सर लोग नजरअंदाज कर देते हैं। इन शुरूआती लक्षणों को पहचानना बहुत जरूरी ताकि वायरस को शरीर में आगे फैलने से रोका जा सके। यहां एचआईवी के शुरुआती लक्षणों के बारे में बता रहे हैं।

aids
एचआईवी के शुरूआती स्टेज में फ्लू जैसे कई लक्षण दिखते हैं और इसके साथ ही हल्का बुखार भी रहता है। बुखार में आपका शरीर जानलेवा वायरस से लड़ता है जिससे वह गर्म हो जाता है लेकिन एचआईवी के केस में ये पर्याप्त नहीं है।
लगातार थकान का बना रहना भी एड्स का एक लक्षण हो सकता है। शरीर का इम्यून पावर कम होने के कारण उसे आराम की अधिक आवश्यकता होती है। ऐसे में लगातार थकान का बना रहना स्वभाविक बात है।
एचआईवी वायरस के बढ़ने से भूख कम होने लगती है और पोषक तत्वों के अवशोषण में भी रुकावट आती है। अगर काफी समय में धीरे-धीरे वजन कम हो रहा है तो ये एचआईवी का लक्षण हो सकता है तुरंत जांच करवाएं।

aids
सिर में दर्द बना रहना और गला खराब रहना भी इस गंभीर बीमारी का एक लक्षण हो सकता है। इस स्थिति में कई बार सिर में तेज दर्द भी हो सकता है, जो दिनभर और रातभर जारी रह सकता है।
इम्यून व रेसिटेंस पावर कम होने के कारण शरीर बीमारियों से आपको बचाने में सक्षम नहीं रह पाता। इसका असर त्वचा की बाहरी सतह पर भी होता है। त्वचा पर लाल रेशेस होना और उनका ठीक न हो पाना भी इसी का एक लक्षण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!