बहुत से लोगों में देखा गया है भूख बहुत कम लगती है। भूख का कम लगना अरूचि नामक रोग को दावत देना है। इस रोग में भूख ना के बराबर लगती है। इसका कारण भूख न लगने की आदत और पेट की गड़बड़ी भी हो सकती है। इससे निजात पाने के निचे कुछ बेहतरीन उपाय दिए गए हैं। इसे आजमा कर आप अपनी भूख की शक्ति को बढ़ा सकते हैं।

निम्बू के बहुत से फायदे होते हैं। यदि आपको भूख न लग रही हो, तो नींबू को काटकर उसपर काला नमक छिड़ककर चाट लें।

थोड़ी थोड़ी देर काला नमक को चाटते रहने से भुख बहुत तीव्र लगती है।

संतरे का सेवन करने से भूख लगती है। इससे खाना खाने में रुचि भी बढ़ती है।

खून को साफ़ करने के लिए सेब का सेवन करना चाहिए इससे भूख भी बढ़ती है। सेब के जूस का भी सेवन कर सकते हैं।

पके हुए टमाटर की चटनी या इसे काटकर इसपर कालीमिर्च पाउडर को छिड़क कर खाने से अरुचि रोग समप्त हो जाता है।

रोजाना अंगूर के सेवन से भी भूख बढ़ती है और अरूचि रोग में से निजात मिल जाती है।

पके हुए बेर खाने से भूख लगती है।

निम्बू के रस के साथ खजूर को पीसकर उसकी चटनी खाने से भूख लगने लगती है।

यदि पाचन क्रिया गड़बड़ होने से भूख नहीं लग रही हो, तो प्रतिदिन आंवले के जूस का सेवन करना चाहिए इससे भूख बढ़ जाएगी।

बहुत से लोग अनार के दाने को मुंह में डालकर हल्का सा कुछ कर निगल जाते हैं। लेकिन यदि अनार के दाने को बारीक़ चबाकर खाएं तो खूब लगना शुरू हो जाएगी।

error: Content is protected !!