जब कोई महिला गर्भवती होती है तो उसके मन में होने बाले बच्चे के लिए कई तरह के सवाल होते है उन्ही में से एक सवाल होता है बच्चे का रंग कैसा होगा, इसके लिए महिला अपने होने वाले बच्चे को स्वस्थ एवं गोरा देखने के लिए कई उपाय करती है। जब तक बच्चा गर्भ में होता है मां की यही कोशिश होती है कि वह सभी खाद्य पदार्थ के सेवन के साथ- साथ ऐसे उपाय करे, जो बच्चे के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद सिद्ध हों। गोरा बच्चा पाने के लिए किसी भी तरह की चीज को खाने की जगह आपको अपने बच्चे को पूर्ण पोषण प्रदान करने वाले आहार का सेवन करने पर जोर देना चाहिए।

gora
बच्चे के मस्तिष्क के विकास के लिए गर्भावस्था के दौरान खाने में ऐसी चीजों को खाये जिनमें फोलिक एसिड अधिक हो। मसूर की दाल और पालक में इसकी मात्रा अधिक होती है।
हरी सब्जियों में भी फोलिक एसिड और आयरन अधिक मात्रा में होता है। प्रेगनेंसी में पालक और हरी पत्तेदार सब्जियां खाने से बच्चे का दिमाग तेज और बुद्धिमान होता है।

gora
गर्भावस्‍था के दौरान दूध का सेवन करने की वैसे भी सलाह दी जाती है। क्‍योंकि दूध भ्रूण के विकास के लिए अच्छा होता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को नियमित रूप से गर्भावस्‍‍था के दौरान गर्म दूध का सेवन करना चाहिए। यह बच्चे और मां के संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लाभकारी हो सकता है।

gora
केसर शरीर की त्वचा को गोरा करता है व शरीर को स्वस्थ भी बनाता है।इसके लिए आप रोजाना सुबह या रात को सोने से पहले केसर मिला हुआ दूध पीना शुरू करे, (केसर ज्यादा मात्रा में न लें) इससे आप भी गोर होंगे और गर्भ में पल रहे बच्चे की त्वचा व शरीर भी गौरा बनेगा. इसका जल्द से जल्द ही प्रयोग शुरू कर देना चाहिए।

error: Content is protected !!