Ling

हमारे पास रोजाना 100-200 लोगों का यह सवाल होता है कि लिंग की नसों में कमज़ोरी क्यों आती है और कमज़ोरी दूर करने का सुरक्षित तरीका क्या है???
हर मर्द चाहता है कि वह अपनी साथी को भरपूर प्यार दें और उसको खुश रखें। और वह अपने साथी को खुश करने के लिए हरसंभव प्रयास करता है जो वह कर सकता है। किए गए शोध में यह पता चला कि लिंग में उत्तेजना उत्पन्न न होने की समस्या से काफी पुरुष पीड़ित हैं। अधिकतर जिनकी उम्र 40 से 70 साल के बीच है। वे पुरुष ज्यादा पीड़ित हैं। और वही जिन पुरुषों की उम्र 70 साल या फिर उससे ज्यादा है। तो इस उम्र के करीब 70 फ़ीसदी लोग इस समस्या से पीड़ित हैं। और यह समस्या कार्डियो वैस्कुलर रोग के होने का साफ-साफ संकेत देती है।

ling

जब हस्थ्मथुन करते है हैं तो टेसटेसटेरॉन हारमोन एक्टिव नही होता है और लिंग को हाथ से रगड़ रगड़ कर ही लिंग को उत्तेजित किया जाता है। हाथ से रगड़ने से घर्षण की वजह से लिंग की ये छोटी छोटी नसें गरम होकर लाल हो जाती है और हस्थ्मथुन के अंत में समय वीर्य जल्दी ना निकल जाए इसलिए लिंग को हाथ से दबाते हैं। इसी समय ये गर्म हुई लाल नसें हाथ के दाब से दब जाती है, कुछ पिचक जाती है और कुछ बिल्कुल ही दब जाती है और यहीं से शुरुआत होती है आपकी कमज़ोरियों की।

ling

यह सब बातें किए गए शोध के बाद ही निकल कर आई हैं। इस दुनिया में 50 फ़ीसदी ऐसे लोग हैं। जिनकी उम्र 40 से 70 साल के बीच में है। और यह पुरुष अपने लिंग में उत्तेजना उत्पन्न ना हो पाने के कारण परेशान हैं। और लिंग में उत्तेजना उत्पन्न ना हो पाए। तो ये हृदय रोग जैसी गंभीर बीमारी की ओर संकेत करता है।

error: Content is protected !!