जब दांतों की सख्त सतह हमेशा के लिए नष्ट हो जाती है और छोटे छिद्र या छेद में विकसित हो जाती है, उसे दांतों की कैविटी कहा जाता है। कैविटी को दांतों का सड़ना या दांतों में कीड़ा लगना भी कहा जाता है। दांतों की ठीक से देखभाल ना करने के कारण दांतों में कैविटी, सड़न, खून आना जैसी समस्याएं आने लगती है जिससे दांतों में दर्द होने लगता है जो सहन करना आसान नहीं होता। दांतों में कीड़ा लग जाने पर टीथ अंदर से खोखला होने लगता है फिर वहां खड़ा बन जाता है और धीरे धीरे दांत खत्म होने लगता है। दांतो की ठीक ढंग से देखभाल ना करने के कारण दांतो में कैविटी, खून आना जैसी समस्याएं होने लगती है जिससे दांतो में दर्द रहने लगता है जो सहन करना आसान नहीं होता।

teeth

प्याज उपयोग करके आप आप अपने दांत के लगे हुए कीड़े को दूर कर सकते है। इसके लिए आप प्याज को नमक के साथ खा सकते हो या सलाद में भी खा सकते हो इससे आपके दांतों को बहुत फायदा होता है।

teeth worm

एक रुई लें और उसे लौंग के तैल में भिगो कर अपने कीड़े वाले दांत पर रख दें। इसे लंबे समय तक रखा रहने दें। यह दांत में कीड़ा लगने का इलाज में सटीक तरीका है, इसको आप चाहे तो दिन भर मुंह में रख सकते हैं।

लौंग के पाउडर की जगह आप लौंग के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। रुई को लौंग के तेल में भिगो कर कीड़े वाले दांत पर लगायें।

error: Content is protected !!