आज के समय में व्यक्ति के अन्दर सहनशीलता की लगातार कमी देखी जा रही है, छोटी छोटी घरेलू समस्यायों की को दिल से लगाकर रखते हैं। हम सब जानते हैं कि जीवन में हर पल प्रॉब्लम आतीं हैं इसका मतलब ये नहीं है कि उनसे छुटकारा पाने के लिए जहर खा ली जाये। व्यक्ति जहर खाने के बाद अपनी गलती महसूश जरुर करता है और जीवन बचाने की अपने लोगों से गुहार करता नजर आता है। हमारे संविधान के अनुसार भी आत्महत्या करना सबसे बड़ा जुर्म माना जाता है क्योंकि आपको इस सुन्दर प्रथ्वी पर खुदखुशी करने के लिए नहीं भेजा गया है। अगर जहर शारीर के अंदर चला गया है तो तुरंत उल्टी करवाएं।

jahar
पीड़ित व्यक्ति के गले के पीछे हल्की थपकियां देकर या उसे नमक का गुनगुने पानी में घोल पिलाकर उल्टी करवाने की कोशिश करें।
यदि कोई व्यक्ति जहर खा लेता है तो उसे तुरन्त ज्यादा से ज्यादा उल्टियाँ करवानी चाहिए, इसके लिए आप उसकी मुँह में उँगलियाँ डालकर उल्टियाँ करवा सकते हैं।

jahar
पीड़ित व्यक्ति को काफी मात्रा में ठंडा पानी पिलाने से भी जहर का असर हल्का हो जाता है। इससे शरीर की जलन कम हो जाती है और उल्टियों के कारण शरीर में हो जाने वाली पानी की कमी की भी पूर्ति हो जाती है।

error: Content is protected !!