शहतूत को भारत में सामान्यतः तूत के नाम से जाना जाता है वैसे तो शहतूत को रेशम बनाने के प्रयोग में लाया जाता है लेकिन कम लोगो को ही पता रहता है की इसका प्रयोग मधुमेह में भी किया जा सकता है आज हम आप को शहतूत से मधुमेह को नियंत्रित करने के कुछ उपाय बताएँगे.

मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए शहतूत के पत्ते का किसी भी तरह से ले सकते हैं.

शहतूत के पत्ते को सब्जी में खा सकते हैं.

इसका सलाद बना कर भी खा सकते हैं.

शहतूत के पत्ते को दिन में एक बार अवश्य मुंह में डाल कर चबाते रहें.

जब शहतूत के फल का सीजन हो तो, शहतूत के फल के सेवन से भी लाभ होगा.

error: Content is protected !!