Daad

खुजली की समस्या दिनों दिन (अक्सर रात में भी) बढ़ती जा रही है। देखा गया है कि लोग खुजली से परेशान हो कर दूसरों की नज़रों से बच कर पैंट की जेब में हाथ डाल कर खुजाते हैं। कोई नहीं देख रहा हो तो सीधे सीधे हाथ डाल कर खुजाते हैं। अकसर ये बीमारी गर्मियों के मौसम में पसीना ज्यादा होने से और चिपकने से जांघों के बीच में खुजली होने लगती है। जांघों के बगल में होने से ये जल्दी ठीक भी नहीं होती है। गर्मियों के मौसम में पसीना ज्यादा होने से और चिपकने से वह जांघों के बीच में खुजली होने लगती है। यह खुजली ज्यादातर जांघों के बगल में होती है और यह ठीक भी नहीं होती है। हम आपको लिए लाए हैं ऐसी आयुर्वेदिक व घरेलू शुद्ध रूप से स्वदेशी जिससे आप की खुजली से निजात पा सकते हैं वो भी बिना किसी साईडइफेक्ट के।

Khujli

20 ग्राम आजवायन को 100 मिलीलीटर पानी में उबाल लें और छान लें। शरीर में जहां भी खुजली हो रही हो इस पानी को वहा पर लगाने से खुजली समाप्त हो जाएगी। यह भी कर सकते हैं कि हल्के पानी में आज्वाइन को पीस लें और संक्रमित भाग पर लगा लें।

उपचार के लिए जैतून तेल के साथ लहुसुन को कुचलक पेस्‍ट तैयार करें। इस पेस्‍ट को प्रभावित क्षेत्र में लगाएं और इसे किसी पतले सूती कपड़े से बांध लें। 2 घंटे के बाद आप इसे धो लें। जब तक आपको आराम न मिले इसे दिन में दो बार दोहराएं। लेकिन यदि आपको इस पेस्‍ट को लगाने पर सूजन या जलन होती है तो इस पेस्‍ट का उपयोग न करें।

khujli

नमक के पानी से नहाने से भी इस इंफेक्शन में फायदा होता है। घर में प्रयोग होने वाले नमक को 30 से 40 मिनट पहले गुनगुने पानी में डालकर रखें और नहा लें। वैसे तो आप जानते हैं कि आवंला खाने से बहुत सी बीमारियाँ ठीक हो जाती है, तो वहीं आवंला कि गुठली को अगर आप जलाकर पीस ले और उसमें नारियल का तेल मिलाकर खुजली पर लगाएं तो दो दिन में आपकी खुजली का नामों निशान मिट जाएगा।

error: Content is protected !!