आयुर्वेद

गुड़हल के फूल के इन 6 फायदों को नहीं जानते होंगे आप

गुड़हल के फूल को लगभग सभी जानते ही हैं। इसका वनस्पतिक नाम हीबीस्कूस् रोज़ा साइनेन्सिस है। भारत में इस फूल को माँ दुर्गा का प्रिय फूल माना है। वैसे गुड़हल के फूल की कुल 200-220 प्रजातियाँ पाई जाती हैं। लेकिन हमारे देश में सबसे ज्यादा लाल रंग का गुड़हल ही पाया जाता है जिसे ब्ल्यूटेन गुड़हल भी कहा जाता है। इसे लोग कच्चा भी खाते हैं, गुड़हल के फूल का उपयोग आयुर्वेद में बहुत से बीमारियों के इलाज में किया जाता है। तो चलिए अब जानते हैं गुड़हल के फूल के कुछ ऐसे फायदे जिसे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे।


  1. खूबसूरत बाल

    Beautifaul Hairलम्बे बाल सभी चाहते हैं लेकिन सभी के बाल झड़ते रहते हैं। गुड़हल का फूल झड़ते हुए बालों को रोकने में बेहद कारगर है। इसका उपयोग बालों को सुंदर बनाने के लिए भी कर सकते हैं। इसके लिए गुड़हल को पानी में उबाल कर सिर धुलें ऐसा करने से बालों के झडऩे की समस्या दूर हो जाती है। इसे एक तरह का एक आयुर्वेदिक उपाय माना जाता है।


  2. ब्‍लड प्रेशर

    blood pressureहाई ब्‍लड प्रेशर की समस्या किसी को भी हो सकती है ऐसा होने पर हार्ट अटैक से मरने की सम्भावना बढ़ जाती है और इसके अलावा बढ़ा हुआ कोलेस्‍ट्रॉल भी घातक हो सकता है ऐसे में हाई ब्लड प्रेशर वाले व्यक्तियों को गुडहल को गरम पानी के साथ उबाल कर या फिर हर्बल टी के जैसे पीना चाहिए क्‍योंकि इसमें एंटीऑक्‍सीडेंट होता है, जो हमारे शरीर के लिए बेहद फायदेमंद होता है।


  3. मोटापा

    weight loss आज के समय सभी मानव मोटापे का शिकार होते चले जा रहे हैं। एक कारण ज्यादा भूख हो सकती है क्योंकि इससे ओवरडाईटिंग हो जाती है। इसके लिए आप गुड़हल का सेवन करें ऐसा करने से बार-बार भूख लगने की समस्या से निजात मिलती है। इसकी पत्तियों से बनी चाय बहुत ही ताकत का अनुभव भी होता है।


  4. बालों की रूसी

    dandruffबालों का सबसे बड़ा दुश्मन है रुसी इसे समाप्त करने के लिए आप गुड़हल की पत्तियों को मेहदी व नींबू के रस के साथ मिलाकर लगाएं। इसके अलावा यह बालों के लिए एक प्राकृतिक कंडीशनर का भी काम करेगा।

  5. मुहांसे

    anceआज के समय में हर कोई चेहरे के मुहांसे से परेशान है इसे लिए आप गुड़हल की पत्तियों को पानी के साथ उबालकर अच्छे से पीस लें और इसमें शहद मिलाकर लगाएं। इससे आपके चेहरे पर होने वाले मुहांसे जल्द समाप्त हो जाएंगे।


  6. मुंह के छाले

    tonsilमुंह के छाले से परेशान हो गए हैं तो गुड़हल की जड़ को धोकर 1-1 इंच के टुकड़ों में काट लें। फिर दिन में 3-4 बार, एक-एक टुकड़ा चबाकर राल को थूकते रहे। ऐसा करने से आप के मुंह के छाले जल्द ही ठीक हो जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!