अंजीर एक बहुत ही पौष्टिक फल है इसका प्रयोग पके फल और सूखे मेवे के तरह किया जाता है। इसमें विटामिन A और विटामिन B और बहुत से खनिज लवण पाए जाते हैं। आपको जानकर हैरानी होगी की अंजीर दुनिया में सबसे पुराने फलों में से एक है मतलब कि यह आदि काल का फल है। अंजीर के फल में किसी प्रकार का सुगंध नहीं आता है, लेकिन यह एक रसीला और गूदेदार फल है। इसे सुखा कर मेवे के रूप में भी ले सकते हैं, लेकिन इसे प्रयोग के तरीके सभी को नहीं पता रहते तो आइये इसे जानें।

  • जुकाम-जुकाम कोने पर अंजीर के 4-5 सूखे मेवे पानी में डालकर उबाल लें और पानी को छानकर सुबह शाम पिएं जुकाम जल्द ठीक हो जाएगा।
  • हड्डीओं को मजबूत-हड्डीओं की मजबूती के लिए अंजीर अत्यंत उपयोगी है इसमें कैल्सियम अत्यधिक मात्रा में पाया जाता है
  • बवासीर-रात को सोने से पहले 4-5 अंजीर को पानी में भिगो कर रख दें सुबह खाली पेट इसका सेवन करें।
  • आंखों की रोशनी बढ़ाने के-अंजीर में विटमिन A अत्यधिक मात्रा में होती है, रोज सवेरे अंजीर खाने से आँखों की रौशनी बढ़ाने में मदद मिलती है।
  • कब्ज के लिए-अंजीर कब्ज के लिए रामबाण की तरह काम करता है इसके सेने से पहले पानी में उबाल कर खा लें और फिर दूध पिएं या फिर पानी में भिगो दें और सुबह रोजाना सेवन से कब्ज नहीं होती है।
  • वजन कम करने के लिए-अंजीर में फाइबर की मात्रा होने के कारण वजन कम करने में सहायक होती है रोजन इसके सेवन से वजन कम हो जाता है।
  • अनीमिया के इलाज-अनीमिया होने पर अंजीर को दूध के साथ उबालकर पीने से आराम मिलता है।
  • ताकत बढ़ाने में-यदि आप मेहनत वाला काम करते हैं तो, ताकत बढ़ने के लिए अंजीर का रोजाना सेवन सर्वोपरि है।
error: Content is protected !!